कोई गुल्लक तोड़ रहा है तो कोई अपनी पहली सैलेरी दे रहा — पीएम की अपील के बाद लाखों लोग आए मदद के लिए

पटना की नवी कक्षा की छात्र शिखा और पूणे के आठवीं कक्षा के छात्र प्रथमेश ने अपनी गुल्लगक तोड़ दी है। इंदौर के आकाश पंकज अपने पहले महीने की सैलेरी में एक पैसा नहीं रखेंगे। ये तीनों अपनी अहम जमा पूंजी को अपने लिए नहीं बल्कि देश के जरूरतमंदों के लिए खर्च करेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपील के बाद जब पूरे देश से जिस तरह मदद के हाथ बढ़े हैं उससे महज चार दिनों में करोड़ों रूपये जमा हो गये हैं। रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की एक अपील के बाद कोरोना से लड़ने के लिए पूरे देश से मदद करने वालों की कतार लग गयी है। अाम से लेकर खास लोग तक कोरोना से निबटने के लिए बनाए केयर फंड में अपना योगदान दे रहे हैं। 

कहा जा रहा है कि पांच दिनां के अंदर ही जिस तरह लोगों ने इसमें अपना योगदान दिया है उससे विश्व का सबसे क्राउडसोर्सिग फंड हो जाएगा। अब तक  सात लाख लोगों ले  लोगों की ओर से 11 करोड़ से अधिक डोनेशन आए।  जबकि जिस तरह तमाम सरकारी महकमे में अधिकतर मंत्रालय और विभाग ने एक दिन के वेतन देने का एलान किया और कारपोरेट जगत भी सामने आए उससे अब तक सबसे बड़ा राहत फंड बन सकता है। मालूम हो कि शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर लोगों से मदद के लिए सामने आने का आग्रह किया था।  पीएमओ के अनुसार इस फंड से तत्काल राहत के लिए कई जगहों पर राशि उपलब्ध करायी जाएगा।  वहीं कारपोरेट जगत ने भी कोरोना से निबटने के लिए अपने हाथ बढ़ाए हैं। इसके लिए सरकार ने भी शर्त में कुछ ढील दी है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ट्वीट कर जानकारी दी कि कंपनियां सीएसआर फंड के तहत इसमें डोनेशन दे सकती है।  मालूम हो कि कोरोना संकट के कारण भारत की आर्थिक स्थिति को बहुत करारा झटका लगने की आशंका बतायाी जा रही है।

खिलाड़ी कुमार ने दिखायी राह

पीएम मोदी की अपील के बाद तुरंत बाद बालीवुड स्टॉर अक्षय कुमार ने तुरंत 25 करोड़ देने का एलान किया। अक्षय कुमार की मदद को पूरे देश में सराहा भी गया। इसके बाद लोग लगातार सामने आने लगे। कारपोरेट जगत भी उसके बाद ही सामन आया। अब तक कारपोरेट जग की ओर से 2000 करोड़ की ओर से अधिक की मदद सामने आ चुकी है। अक्षय कुमार ने पहली बार ऐसे समय मदद का हाथ नहीं बढ़ाया है। पारा मिलिट्री के शहीद होने वाले जवानों के परिवारों के भरन पोषण करने वाले फंड बनाने में भी सहयोग दे चुके हैं। इसके अलावा सोशल मीडिया पर सबसे पहले मदद के लिए आने वाले टाटा ग्रूप,अजीज प्रमेजरी जैसे लोगों की भी तारीफ हो रही है। एक अनुमान के अनुसार कोरोना संकट से भारत को 10 लाख करोड़ से अधिक नुकसान हो रहा है।

Facebook Comments