भारत में कोविड मामले कब तक कितने-कहीं आशा,कहीं निराशा

भारत में कोरोना के मामले जून में अपने पीक पर जाएंगे। इस महीने के अंत में हर दिन एक लाख जांच करने का भी लक्ष्य रखा गया है। इसके बाद कोरोना के पोजिटिव मामले में और तेजी आने की भी आशंका बतायी जा रही है।

भारत में कोरोना मरीजों का मिलना जारी है। जो रफ्तार है उस हिसाब से अगले तीन दिनों में चीन से अधिक मामले हो सकते हैं। हालांकि चीन की ओर से विश्व को बताए जा रहे आंकड़े विश्वसनीय नहीं माने जा रहे हैं। आरोप है कि चीन ने अपन आंकड़े छिपाए हैं। इधर भारत की बात करें तो जिस तरह नये मामले आ रहे हैं उस हिसाब से कहीं गंभीर चिंता दिखती है तो कहीं उम्मीद की किरण भी दिखती है।

भारत में ये मामले कब तक आते रहेंगे और किस रफ्तार से यह बढ़ेगी,अभी इस मुद्दे पर भी कई तरह के तर्क आ रहे हैं। पिछले दिनों एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने कहा कि भारत में कोरोना के मामले जून में अपने पीक पर जाएंगे। इस महीने के अंत में हर दिन एक लाख जांच करने का भी लक्ष्य रखा गया है। इसके बाद कोरोना के पोजिटिव मामले में और तेजी आने की भी आशंका बतायी जा रही है।

वहीं पीएमओ में पूर्व आर्थिक सलाहकार प्रो शमिका रवि ने भारत में मिल रहे केस पर रिसर्च किया उस हिसाब से अभी के हालात इस तरह हैं। वह ब्रूकिंग्स इंडिया की सीनियर रिसर्चर भी रही हैं। उनके रिसर्च के हिसाब से पिछले पांच दिनों का ट्रेड देखें तो सबसे अधिक मामले बढ़ने वाले राज्य-
-महाराष्ट्र
-तमिलनाडू
-गुजरात
-दिल्ली

जहां अभी भी संख्या औसत से अधिक आ रहे हैं-
-राजस्थान
-उत्तर प्रदेश
-मध्य प्रदेश
-पश्चिम बंगाल
-बिहार

पूर्व में फैलता संक्रमण
-ओडिसा
-झारखंड
-त्रिपुरा

चार महानगर सबसे अधिक प्रभावित
दिल्ली-1458
मुंबई-14473
कोलकाेता-1029
चेन्नई-4378

भारत में कारेाना मामले के दोगुना होने की अवधि अभी 14 दिन है।

भारत में कोरोना अपडेट-13 मई सुबह 8 बजे

24 घण्टे में नये मामले-3525

नई मौतें-122

कुल मामले-74281

सक्रिय मामले-47480

कुल मौतें-2415

Facebook Comments